You cannot copy content of this page
जिन्दा हूँ मैं

जिन्दा हूँ मैं

सवालों के जवाब और जवाबों में हिसाब ढूँढता ही रहा मैं देर लगी तो सहमें से पत्तों की तरह झूमता ही रहा मैं कुछ मन का किया कुछ कडवाहट इन रिश्तों में महसूस भी की है रास्ते की चमक और कुछ पाने की ललक विरासत में मिली है एहसान के आगोश में लिपटा हुआ एक अपाहिज सा परिंदा हूँ मैं...
Lady In Black

Lady In Black

She was wearing black Long flowing hair Lips pursed As if wants to say a lot But holding it all back Rebellious in stare Mushy in that glare Playing with her tresses Not worried an iota About any of the flak Eyelashes as fluid as the air Crazy smirks enthrall her soul...